Karva Chauth Pujan Vidhi and Shubh Muhurat- करवाचौथ 2020

Spread the love of festival

Karva Chauth Vrat- हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, करवाचौथ का व्रत कार्तिक मास में कृष्णा पक्ष की चतुर्थी के मनाया जाता है, साल 2020 में करवाचौथ का व्रत 4 नवंबर 2020 को बुधवार के दिन मनाया जायेगा। इस पोस्ट में हम करवाचौथ के व्रत का शुभ मुहूर्त और व्रत विधि के बारे में बताएँगे- Karva Chauth Pujan Vidhi and Shubh Muhurat 2020.

Karva Chauth Shubh Muhurat 2020

करवा चौथ 2020 का शुभ मुहूर्त | Karva Chauth Shubh Muhurat 2020

करवा चौथ का पूजा मुहर्त  संध्या 17:49 से 19:04 तक
मुहूर्त कुल समय  1 घंटा 22 मिनट तक
करवाचौथ के दिन चंद्रोदय  20:48 पर (दिल्ली में)
चतुर्थी तिथि का आरम्भ  03:24 बजे से, 4 नवंबर 2020
चतुर्थी तिथि समाप्त  05:14 बजे तक, 05 नवंबर 2020
करवाचौथ की तारीख  4 नवंबर 2020
करवाचौथ का दिन  बुधवार

जरूर पढ़े- करवाचौथ पर भूल कर भी न करे ये 10 काम, नहीं मिलेगा पूजा का फल

Karva Chauth Pujan Vidhi 2020

Karva Chauth Pujan Vidhi- करवा चौथ का व्रत विवाहित स्त्रियाँ अपने पति की दीर्घायु के लिए करती है, इस व्रत को पूर्ण करने के लिए भगवान शिव, माता पार्वती, और कार्तिकेय के साथ साथ भगवन गणेश की भी पूजा की जाती है। करवाचौथ की इस पूजा को करने के लिए नीचे दी गयी व्रत विधि (Karva Chauth Vrat Vidhi) करे।

1) करवाचौथ के दिन सूर्योदय से पहले उठकर सरगी के रूप में मिला हुआ भोजन करके पानी पी लें। इसके बाद भगवान से इस निर्जला व्रत करने का संकल्प लें।

2) करवाचौथ के व्रत में महिलाएं पूरे दिन जल-अन्न ग्रहण किए बिना चांद देखने के बाद ही अपना व्रत (Karva Chauth Vrat) खोलती हैं।

3) पूजा करते समय एक मिट्टी की वेदी पर सभी देवताओं की स्थापना कर इसमें करवे रखें।

यहाँ जानिए करवा चौथ के लिए पूजा की थाली में होने वाली चीज़ो की पूरी लिस्ट

4) इसके बाद एक थाली में धूप, दीप, चन्दन, रोली, सिन्दूर रखकर घी का दीपक जलाएं।

5) करवाचौथ के पूजन (Karva Chauth Pujan) के दौरान करवा चौथ कथा खुद भी जरूर सुनें और दूसरों को भी सुनाएं।

6) चांद को छलनी से देखने के बाद अर्घ्य देकर चन्द्रमा की पूजा करनी चाहिए।

7) चांद को देखने के बाद पति के हाथ से जल पीकर व्रत खोलना चाहिए।

8) इस दिन बहुएं अपनी सास को थाली में मिठाई, फल, मेवे, रूपये आदि देकर उनसे सौभाग्यवती होने का आशीर्वाद लेती हैं।

Disclaimer: The information contained in the above article are solely for informational purpose after exercising due care.

अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ शेयर कर सकते है और हमारे साथ Facebook और Telegram पर भी जुड़ सकते है।

Author


Spread the love of festival

Leave A Reply

Your email address will not be published.